Home Books Botany Padap jaivpraudyogikee (Plant Biotechnology)

Padap jaivpraudyogikee (Plant Biotechnology)

Categories

Padap jaivpraudyogikee  (Plant Biotechnology)

  • ISBN
  • E-ISBN
  • Book Format
  • Binding
  • Language
  • Edition
  • Imprint
  • ©Year
  • Pages
  • Book Type
Select Format USD( )
Print Book 5.00
Add To Cart Buy Now  Request Complimentary Copy

Export to Excel

Blurb

कॉलेज व विश्वविद्यालय स्तर पर विज्ञान विषय में उच्च स्तर की पुस्तकें साधारणतया अंग्रेजी माध्यम में ही उपलब्ध होती है। स्कूल स्तर तक हिन्दी माध्यम से अध्ययन किए हुए विद्यार्थियों के लिए कॉलेज व विश्वविद्यालय स्तर पर विज्ञान विषयों का अंग्रेजी भाषा में अध्ययन व अभिव्यक्ति एक चुनौती होती है। ऐसी स्थिति में हिन्दी माध्यम के विद्यार्थियों को विज्ञान विषय के आधारभूत तकनीकी शब्दों व संकल्पनाओं की सुस्पष्ट समझ विकसित नहीं हो पाती है। फलस्वरूप हिन्दी माध्यम के विद्यार्थियों में विज्ञान विषयों के प्रति अरूचि पैदा होने लगती है। प्रस्तुत पुस्तक में ‘‘पादप जैवप्रौद्योगिकी’’ जैसे तकनीकी विषय को सरलतम हिन्दी भाषा में रंगीेन चित्रण द्वारा अभिव्यक्त किया गया है। पुस्तक जैवप्रौद्योगिकी विकास क्रम से प्रारम्भ होती है व पादप उतक संवर्धनः विकास का इतिहास ,पादप उतक संवर्धनः उपयोगिताएँ, उतक संवर्धन के लिए आवश्यक सामग्री, उपकरण व विधियाँ, अंग एवं कायिक भू्रणजनन, सूक्ष्मप्रवर्धन, जीवद्रव्यक पृथक्करण व संवर्धन, उतक संवर्धन द्वारा द्वितीयक उपापचयी निर्माण, अगुणित संवर्धन, जननद्रव्य संरक्षण, आनुवांशिक अभियांत्रिकी एवं जैवप्रौद्योगिकी, जैविक नाइट्रोजन स्थिरीकरण की आण्विक जैविकी, नेनो जैवप्रौद्योगिकी, डीएनए फिंगरप्रिंटिंग तक जारी रहती है। इस पुस्तक के अध्ययन से विद्यार्थियों में पादप जैवप्रौद्योगिकी विषय की आधारभूत समझ व रूचि बढ़ेगी व विद्यार्थी पादप जैवप्रौद्योगिकी में उच्च शिक्षा व अनुसंधान के लिए प्रेरित होंगे। 

© 2022 SCIENTIFIC PUBLISHERS | All rights reserved.